ITR kaise bhare | इनकम टैक्स रिटर्न कैसे भरे 2023-24

आयकर रिटर्न (ITR) भरना भारत में हर व्यक्ति के लिए महत्वपूर्ण होता है। यह देश के नियमों और विधियों के अनुसार व्यक्ति या व्यावसायिक कमाई को दर्शाता है और सरकार को उस पर लगने वाले Tax को व्यक्ति द्वारा भुगतान में मदद करता है। ITR व्यक्ति को समझदारी से भरना चाहिए ताकि उन्हें कानूनी प्रक्रिया का पालन करने और दूसरे फायदे उठाने का अवसर मिल सके।

ITR kaise bhare-

आज के इस आर्टिकल में मैं आपको बताऊंगा की आप ऑनलाइन या ऑफलाइन आसानी से ITR kaise bhare सकते है।

ITR kaise bhare

1) आईटीआर क्या है? 

ITR या इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) वो दस्तावेज होता है जिसका उपयोग व्यक्तिगत और व्यापारिक आय को दर्शाने और सरकारी विभाग को आय की गणना करने में किया जाता है। यह एक प्रकार का फॉर्म होता है जिसे भारतीय नागरिकों को नियमित अंतराल पर भरना होता है।

 

2) आईटीआर के प्रकार-

भारतीय आयकर विभाग ने विभिन्न प्रकार के आईटीआर फॉर्म जारी किए हैं, जिनमें से प्रत्येक एक विशेष आय और प्राधिकरण के अनुसार बनाए गए हैं-

  1. आईटीआर-1: सैलरी और वेतन से आय प्राप्त करने वाले व्यक्तियों के लिए।
  2. आईटीआर-2: व्यवसायिक व्यक्ति और हिन्दू विभाग 1 के अंतर्गत आने वाले व्यक्तियों के लिए।
  3. आईटीआर-3: व्यक्तिगत व्यक्तियों के लिए जो नियमित रूप से संपत्ति और प्रॉपर्टी से आय प्राप्त करते हैं।
  4. आईटीआर-4: आयकर विभागीय निधियों और अन्य संस्थाओं के लिए।

3) ITR भरने के लिए आवश्यक दस्तावेज-

ITR भरते समय कुछ आवश्यक दस्तावेजों की आवश्यकता होती है, जैसे पैन कार्ड, आधार कार्ड, बैंक के बयान, और निवेश से संबंधित प्रमाण पत्र, ये सभी आवश्यक दस्तावेज होने पर आप आसानी से ITR भर सकते है। 

4) ITR भरना क्यों जरूरी है?

भारत सरकार ने हर व्यक्ति या व्यावसायिक धंधे वाले के लिए आय का दर्शक माना है। यह दर्शक व्यक्ति की कमाई के आधार पर लगने वाले Tax को स्पष्ट करता है और सरकार को व्यक्ति द्वारा किए गए वित्तीय उपयोग को जानकारी प्रदान करता है।

5) ITR कब और कैसे करें भरे-

हर वर्ष, भारत सरकार वर्ष के अंत में ITR भरनी की अवधि को व्यक्तियों के लिए निर्धारित करती है। ITR ऑनलाइन या ऑफलाइन तरीके से भरा जा सकता है। इसके लिए व्यक्ति को इनकम टैक्स विभाग की वेबसाइट पर जाकर उस वर्ष के अनुसार ITR फॉर्म डाउनलोड करना होता है। फिर, सही तरीके से सारी मांग की गई जानकारी को भरना होता है।

6) आईटीआर भरने की प्रक्रिया-

ITR भरने की प्रक्रिया एक स्टेप-बाय-स्टेप प्रक्रिया होती है जो निम्नलिखित तरीके से की जा सकती है-

  1. प्रमुख तथ्य संकलन- आईटीआर भरने से पहले, सभी महत्त्वपूर्ण तथ्यों को संकलित करना जरूरी होता है। इसमें पिछले वित्तीय वर्ष में प्राप्त हुई सभी आयों की जानकारी, निवेश, बैंक खाते, पैन कार्ड आदि शामिल होते हैं।
  2. आयकर फॉर्म चुनना- अपनी आयकर श्रेणी के अनुसार सही आईटीआर फॉर्म चुनना जरूरी होता है। व्यक्तिगत या व्यापारिक आय के आधार पर फॉर्म का चयन करें।
  3. फॉर्म भरना- चयनित फॉर्म को ध्यानपूर्वक भरें, जिसमें आपकी सभी आय और निवेशों की जानकारी दर्ज करें। आवश्यकता होने पर उपलब्ध सहायक दस्तावेजों को साथ में जोड़ें।
  4. डॉक्यूमेंट्स संलग्न करें- आयकर फॉर्म के साथ आवश्यक दस्तावेजों को संलग्न करें, जैसे कि पिछले वर्ष की आय की रसीदें, बैंक स्टेटमेंट्स, पैन कार्ड कॉपी, और अन्य संबंधित दस्तावेज।
  5. सबमिट करें- फॉर्म और सभी आवश्यक दस्तावेजों को आयकर विभाग को सबमिट करें। ऑनलाइन या ऑफ़लाइन मोड में आयकर भरने के विभिन्न तरीके हो सकते हैं।
  6. आयकर भुगतान- आयकर फॉर्म जमा करने के बाद, यदि कोई आयकर भुगतान करना हो, तो उसे समय पर भुगतान करना चाहिए।

7) ऑनलाइन ITR भरने का तरीका-

आजकल इंटरनेट की दुनिया में, आयकर भरने के लिए अधिकांश लोग ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म का उपयोग करते हैं। आप आधिकारिक आयकर विभाग की वेबसाइट पर जाकर आयकर रिटर्न फॉर्म ऑनलाइन भर सकते हैं।

आयकर भरने के लिए ऑनलाइन तरीका बहुत ही सुविधाजनक है। इसके जरिए आप अपने आयकर रिटर्न को आसानी से और सही ढंग से भर सकते हैं। ऑनलाइन आयकर भरने के लिए निम्नलिखित कदमों का पालन कर सकते हैं-

  1. आधिकारिक वेबसाइट पर लॉग इन करें- सबसे पहले, आयकर विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं और वहां पर अपने खाते में लॉग इन करें।
  2. आयकर रिटर्न फॉर्म भरें- वेबसाइट पर आपको आयकर रिटर्न फॉर्म के लिए विकल्प मिलेगा। आपको उस फॉर्म को भरना होगा जिसे आपकी आवश्यकता हो। यहां आपको सभी आवश्यक जानकारी देनी होगी जैसे कि आपकी आय, निवेश, बैंक का विवरण, आदि।
  3. सबमिशन करें- जब आपका फॉर्म पूरा हो जाए और सही ढंग से भर लिया गया हो, तो उसे सबमिट करें। आधिकारिक वेबसाइट पर आपको एक ‘सबमिट’ या ‘जमा करें’ बटन मिलेगा, जिसे दबाकर आप अपने आयकर रिटर्न को सरकारी विभाग को प्रेषित कर सकते हैं।
  4. भुगतान करें- अगर आपको कोई आयकर भुगतान करना हो, तो वेबसाइट पर भुगतान के विकल्प भी होंगे। वहां से आप ऑनलाइन भुगतान कर सकते हैं और अपना आयकर भुगतान कर सकते हैं।

8) ऑनलाइन आयकर भरने के लाभ-

ऑनलाइन आयकर भरने के कई लाभ होते हैं। यह तेजी से और सरलता से किया जा सकता है, और अक्सर अधिक सुरक्षित भी होता है। इसके साथ ही, आप आयकर स्लैब्स, नियम और अन्य विवरणों को भी ऑनलाइन प्राप्त कर सकते हैं।

9) आईटीआर भरने की महत्ता-

ITR भरने का मकसद सरकार को आम लोगों की आय को समझने और उसके आधार पर उचित आयकर वसूली करने में मदद करना होता है। यह स्थानीय अधिकारियों को आम लोगों की आर्थिक स्थिति को समझने और समर्थन प्रदान करने में भी सहायता करता है।

10) ITR भरते समय आम गलतियाँ-

कुछ आम गलतियाँ ITR भरते समय होती हैं, जैसे कि गलत जानकारी देना, अनियमित या अवसरिक आय को छिपाना, सही वर्गीकरण ना करना, या कानूनी रूप से आय छिपाना। इन गलतियों से बचने के लिए, सही और सत्यिक जानकारी देना अवश्यक है।

निष्कर्ष-

ITR kaise bhare- आयकर भरना एक महत्त्वपूर्ण दायित्व है जो हर व्यक्ति और व्यवसायी को समझना चाहिए। यह सरकारी नियमों और विनियमों का पालन करने में मदद करता है और समाज में न्याय सुनिश्चित करता है। आईटीआर भरने की प्रक्रिया में सही जानकारी और सहायता के साथ-साथ धैर्य और सतर्कता भी बहुत महत्त्वपूर्ण होती है।

FAQs-

1. क्या आईटीआर भरना जरूरी है?

हाँ, आईटीआर भरना बहुत ही महत्वपूर्ण है। यह सरकारी नियमों का पालन करने का एक माध्यम होता है और यह आपकी आय का सही हिसाब रखने में मदद करता है।

2. क्या आईटीआर भरते समय सभी दस्तावेज आवश्यक होते हैं?

हाँ, आईटीआर भरते समय कुछ आवश्यक दस्तावेज होते हैं जैसे पैन कार्ड, आधार कार्ड, बैंक के बयान, और निवेश से संबंधित प्रमाण पत्र।

3. आईटीआर भरते समय सबसे आम गलती क्या होती है?

सबसे आम गलती गलत जानकारी भरना और समय सीमा में छूट होती है। इसलिए सही जानकारी और समय पर भराई गई आईटीआर फॉर्म जरूरी होती है।

4. फ्रीलांसर्स और छोटे व्यवसायों के लिए आईटीआर भरना कैसे अलग होता है?

फ्रीलांसर्स और छोटे व्यवसायों के लिए आईटीआर भरना अलग होता है क्योंकि उनकी आय के स्रोत और कारोबार की प्रकृति भिन्न होती है। वे अपनी खुद की व्यापारिक खाता रखते हैं और उन्हें विशेष छूटें भी मिलती हैं।

5. आईटीआर के नवीनतम बदलाव क्या हैं?

नवीनतम बदलाव इसमें हो सकते हैं कि कौनसा आईटीआर फॉर्म आपके लिए उपयुक्त है और क्या-क्या नए नियम या निर्देश आए हैं। इसलिए, नवीनतम बदलावों को ध्यान में रखना जरूरी होता है।

Share this post

2 Comments on “ITR kaise bhare | इनकम टैक्स रिटर्न कैसे भरे 2023-24”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *