lakshya kaise banaye | लक्ष्य कैसे हासिल करे

क्या आप जानते है, इस दुनिया में जितने भी सफल लोग है, उन सब में एक चीज कॉमन थी? और वो है लक्ष्य(gola ) जी हाँ उन सब के पास अपने अपने लक्ष्य थे? उन्होंने अपना लक्ष्य बनाया था? और उस लक्ष्य को हासिल करने के लिए वो दिन रात मेहनत करने लगे जिसके कारण आज वो सफल है lakshya kaise banaye | लक्ष्य कैसे हासिल करे

लेकिन क्या आप जानते है, उन्होंने अपना लक्ष्य कैसे बनया था? आपमें से काफी लोगो को पता नहीं होगा की लक्ष्य कैसे बनाते है? ‘तो आज मै आपको बताऊंगा की लक्ष्य कैसे बनाते है? और  ये भी बताऊंगा की आप अपने लक्ष्य को कैसे हासिल कर सकते हो’ तो सबसे पहले जानते है की आखिर लक्ष्य क्या होता है,

lakshya kaise banaye | लक्ष्य कैसे हासिल करे-

लक्ष्य क्या है ( What is goal )-

लक्ष्य का सीधा सा अर्थ है जीवन, क्योकि जीवन जीने के लिए लक्ष्य का होना बहुत जरूरी है? अगर आपकी जिन्दगी में कोई लक्ष्य नहीं है तो आपको इस जीवन का कुछ मतलब भी पता नहीं चलेगा, लेकिन अगर आपने अपना लक्ष्य बना लिया है तो 90% चांस है की आप उसे हासिल भी कर सकते हो, इसलिए अपनी जिन्दगी का लक्ष्य ( गोल ) होना बहुत ही जरूरी|lakshya kaise banaye | लक्ष्य कैसे हासिल करे

क्या आप ऐसी बस में सफ़र करना चाहोगे जिसकी कोई मंजिल ही ना हो की वो कहाँ जा रही है? शयद नहीं! क्योंकि कोई भी बिना मंजिल वाली बस में सफ़र करना नहीं चाहेगा|

लेकिन इस दुनिया में ऐसे बहुत से लोग है जिनकी कोई मंजिल ही नहीं है, उनका कोई गोल ही नहीं है? इसलिए अगर जिन्दगी को जीना चाहते हो तो जिन्दगी के लिए लक्ष्य का होना भी बहुत जरूरी है|

मै आपको बताऊंगा की आप अपनी जिन्दगी का लक्ष्य कैसे बना सकते हो, एवं उसे कैसे हासिल कर सकते हो|

दोस्तों लक्ष्य बनाने से लेकर उसे हासिल करने का सिंपल सा तरीका है की आपका लक्ष्य SMART होना चाहिए? सबसे पहले आप अपनी इस जिंदगी में क्या करना चाहते हो? आपको इस जिंदगी से क्या चाहिए और कितनी चाहिए, आप एक कॉपी में लिख लो|

क्योंकि बहुत से लोग इसी Confusion में रहते है की आखिर मुझे क्या चाहिए, लेकिन मै आपको बताऊंगा आप इस Confusion से कैसे निकल सकते है|

SMART CHECKLIST- दोस्तों मै आपको स्मार्ट तरीके से लक्ष्य बनाना और उसे हासिल करने का तरीका बताऊंगा –

S- SPECIFIC- 

स्पेसिफिक का मतलब है की आपको Exactly क्या चाहिए|  बहुत से लोग इसी कनफ्यूजन में रहते है की आखिर मुझे क्या चाहिए, कोई कहता है मुझे पैसे कमाना है, लेकिन कितना पैसा कमाना है, कोई कहता है मुझे गाड़ी खरीदना है, तो कौन  सी गाड़ी खरीदना है, कोई कहता है मुझे वेट लूज करना है, कितना वेट को कम करना है, कोई कहता है की मुझे अच्छे मार्क्स लाना है, लेकिन कितना मार्क्स लाना है|

इन सब के प्रति जो भी आपका लक्ष्य है आपको Specific होना पड़ेगा की आपको Exactly क्या चाहिए? और कितना चाहिए? आप इस तरह् से अपने लक्ष्य को Specific कर सकते हो की मुझे 2 साल बाद 10 लाख रूपए कमाना है, (ये एक specific गोल है)  फिर आपने जो भी Decide किया है उसे एक कॉपी में लिख लो और उसे ऐसी जगह रखो जहाँ पर आपका ध्यान सबसे ज्यादा जाता है|

आपको जो भी चाहिए वो आपको क्लियर पता होना चाहिए|

M- MEASURABLE-

M का मतलब है की आपका गोल Measurable होना चाहिए? मतलब आपका जो भी गोल है आप उसे Measur कर सको या उसे ट्रैक कर सको की 1 महीने पहले आप कहा थे और 5 महीने बाद आप कहा है|

[जब भी आप अपने गोल को Measur करोगे तो इससे आपका कॉन्फिडेंस लेवल बढेगा, और आप अपने गोल को पूरा करने के लिए और ज्यादा मेहनत कर सकोगे, आप इसे हर महीने Measur कर सकते हो|]

A- ACHIEVABLE-

आपका गोल चैलेन्गिंग होना चाहिए, मतलब आपको अपने अंदर से पता होना चाहिए की ये गोल मेरे लिए Achievable है? और देखो की आपने जो भी गोल Decide किया है क्या वो Exactly में अचिवेअबल है भी या नहीं? आपका गोल Achievable होना चाहिए|

ऐसा नहीं होना चाहिए की आपने ‘Decide’ कर लिया की मुझे 1 हफ्ते में  1 करोड़ रूपए कमाना है , क्योकि ये Achievable नहीं और ये आपको परेसान करता रहेगा, इसलिए अपना गोल इस तरीके से Decide करो की वो Achievable हो और आप उसे अचीव कर सको |

R- RELEVANT-

आपका गोल आपकी लाइफ के साथ  रेलेवेंट होना चाहिए, मतलब आपकी Purpose ऑफ़ लाइफ के साथ, आपकी Vision के साथ, आपकी Strength और Weakness के साथ,आपकी वैल्यू के साथ  Relevant चाहिए|

मानलो की आपको अपने फॅमिली के साथ टाइम स्पेंड करना अच्छा लगता है? और अगर वही दूसरी तरफ अगर आपने अपने Financial goal इस तरह बनाया हुआ है जिसमे आप अपने फॅमिली को कभी टाइम नहीं दे पाओगे तो कही न कही आपके गोल Relevant नहीं है? ये चीज कही न कही आपको परेसान करेगी,और आपको कोम्प्रोमईस करना पड़ेगा|

इसलिए आपके Goal पूरी लाइफ के साथ ‘Relevant’ होना चाहिए? जिससे आपको भी अपने गोल्स को अचीव करने मजा आये और आप अपने गोल्स को पूरा कर सको|

T-TIME-

आपने अब तक जितने भी गोल्स अपने कॉपी में लिखे है उन सब के लिए एक टाइम ‘Decide’ करो? पर ध्यान रखना ये टाइम बहुत कम नहीं होना चाहिए, ऐसा न हो की आपका  गोल बहुत बड़ा हो और आपने उसके लिए बहुत कम टाइम रखा हो, क्योंकि इससे आप Demotivate’ होगे और खुद को स्टेस फील करोगे| और यही Same टाइम  Timeline’ बहुत ज्यादा भी नहीं होना चाहिए क्योकि ज्यादा टाइम रखोगे तो खुद को Lazy फील करोगे, और बीच में ही बोर होके उस काम को छोड़ दोगे|

इसलिए मानलो की आपको एक कार खरीदना है? तो उसके लिए आपको एक टाइम Decide करो की मुझे अगले एक साल के अंदर एक नया कार लेना है? तो फिर इसके According आप खुद को Prepare’ कर सकते हो|

lakshya kaise banaye | लक्ष्य कैसे हासिल करे-

इस तरह से आप अपना लक्ष्य बना सकते हो और उसे हासिल भी कर सकते हो|

अब तक तो आपको लक्ष्य बनाने से लेकर उसे हासिल करने का ये पूरा आर्टिकल पसंद आया होगा|

लेकिन अगर फिर भी कोई डाउट है तो कमेंट में पूछना न भूले|

और अब तक आपने अपना गोल सीट भी तैयार कर लिया होगा, और अपने लक्ष्य को कॉपी में लिख लिया होगा|

तो उम्मीद करता हूँ की आपको (lakshya kaise banaye | लक्ष्य कैसे हासिल करे?) ये आर्टिकल पसंद आया होगा? और आपको इस आर्टिकल से रिलेटेड कोई भी सवाल हो तो आप मुझेसे पूछ सकते है|

अगर आपको ये आर्टिकल पसंद आता है तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करे|

lakshya kaise banaye | लक्ष्य कैसे हासिल करे-

Smart full form-

S- SPECIFIC

M- MEASURABLE

A- ACHIEVABLE

R- RELEVANT

T-TIME

Share this post

21 Comments on “lakshya kaise banaye | लक्ष्य कैसे हासिल करे”

Leave a Reply

Your email address will not be published.